Chand Ka Tukda Lyrics - Tony Kakkar

Chand Ka Tukda Song: The Romantic Hindi Song is Sung by Tony Kakkar. While Lyrics and Music are given by Tony Kakkar. (चाँद का टुकड़ा लिरिक्स हिंदी में)

Chand Ka Tukda Lyrics

CHAND KA TUKDA LYRICS

Chand Ka Tukda Lyrics In English

Duniya Kehti tumko
Chand ka Tukda…
Duniya Kehti tumko
Chand ka Tukda…

Na samajh hai woh
unhe pata nahi
Na samajh hai woh
unhe pata nahi
Ke chand tumhara hai tukda

Duniya Kehti tumko
Chand ka Tukda…
Na samajh hai woh
unhe pata nahi
Ke chand tumhara hai tukda

Duniya Kehti tumko
Chand ka Tukda…

ghar se na niklo tum
Kabhi bhi shaam ko
Bhul jayenge log
dekhna chand ko

Bina singaar kitna
chehre pe noor hai
maikhano mein bhi nahi woh
naino mein suroor hai
naino mein suroor hai…

Nahi dekhna tajmahal ab
dekh liya tera mukhda

Na samajh hai woh
unhe pata nahi
Ke chand tumhara hai tukda

Duniya Kehti tumko
Chand ka Tukda…

Sooraj ki laali tere hothon pe rehti hai
nadiya diwani tere ashkon se behti hai

sangmarmar sa badan khuda ne tarasha hai
tujhe kya pata tera samandar hi pyasa hai
samandar hi pyasa hai….

singaar ki nahi zaroorat
kitna sundar mukhda

Na samajh hai woh
unhe pata nahi
Ke chand tumhara hai tukda

Duniya Kehti tumko
Chand ka Tukda…

Lyrics by Tony Kakkar

चाँद का टुकड़ा लिरिक्स हिंदी में

दुनिया कहती तुमको
चाँद का टुकड़ा …
दुनिया कहती तुमको
चाँद का टुकड़ा …

ना समझ है वोह
उन्हें पता नहीं
ना समझ है वोह
उन्हें पता नहीं
के चाँद तुम्हारा है टुकड़ा

दुनिया कहती तुमको
चाँद का टुकड़ा …
ना समझ है वोह
उन्हें पता नहीं
के चाँद तुम्हारा है टुकड़ा

दुनिया कहती तुमको
चाँद का टुकड़ा …

घर से ना निकलो तुम
कभी भी शाम को
भूल जायेंगे लोग
देखना चाँद को

बिना सिंगार कितना
चेहरे पे नूर है
मैखानो में भी नहीं वोह
नैनो में सुरूर है
नैनो में सुरूर है …

नहीं देखना ताजमहल अब
देख लिया तेरा मुखड़ा

ना समझ है वोह
उन्हें पता नहीं
के चाँद तुम्हारा है टुकड़ा

दुनिया कहती तुमको
चाँद का टुकड़ा …

सूरज की लाली तेरे होठों पे रहती है
नदिया दीवानी तेरे अश्कों से बहती है

संगमरमर सा बदन खुदा ने तराशा है
तुझे क्या पता तेरा समंदर ही प्यासा है
समंदर ही प्यासा है ….

सिंगार की नहीं ज़रुरत
कितना सुन्दर मुखड़ा

ना समझ है वोह
उन्हें पता नहीं
के चाँद तुम्हारा है टुकड़ा

दुनिया कहती तुमको
चाँद का टुकड़ा …

Lyrics by Tony Kakkar

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on reddit
Share on skype
Share on whatsapp
Share on email
Share on telegram
Unknown Fact

Tony Kakkar used to play cricket during the school days and also has represented his team at the zonal and state level.

Chand Ka Tukda Song Info
SongChand Ka Tukda
SingerTony Kakkar
LyricstTony Kakkar
MusicTony Kakkar
Music LabelDesi Music Factory
Chand Ka Tukda Official Video

Related songs

Scroll to Top